राज्य स्तरीय कार्यशाला में सम्मानित हुए बिजनौर के नवाचारी शिक्षक

“बेसिक शिक्षा विभाग प्रयागराज” एवं स्वप्रेरित शिक्षक समूह “एडुस्टफ” उत्तर प्रदेश के संयुक्त तत्वावधान में दो दिवसीय नवाचारी शिक्षक समागम सातत्य” का शुभारंभ मेयोहॉल चौराहा स्थित “सारस्वत “पैलेस में सम्पन्न हुआ। जिसमें जनपद बिजनौर से नवाचारी शिक्षक/शिक्षिकाओं में संदीप कुमार शर्मा, मनीषा त्यागी एवं सविता चौहान ने कार्यशाला में प्रतिभाग किया और शिक्षा के क्षेत्र में अपने विद्यालयों में किए जा रहे उत्कृष्ट कार्यों को PPT के द्वारा साझा किया।

विभिन्न जनपदों से आए शिक्षकों और मुख्य अतिथियों ने बहुत सराहना की। प्राचार्य डायट एवं सीटीई श्री अशोक कुमार सिंह ने कहा कि टीम एडुस्टफ उत्तर प्रदेश के प्रयास सराहनीय व अनुकरणीय है ऐसे नवोन्मेषी शिक्षकों के प्रयासों से पूरे प्रदेश में बेसिक शिक्षा को एक नई पहचान हासिल हो रही है।

इस अवसर पर जिला बेसिक शिक्षाधिकारी प्रयागराज श्री प्रवीण कुमार तिवारी ने अपनी शुभकामनाएं देते हुए बतौर मेजबान प्रयागराज के कार्यों एवं एडुस्टफ द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि हम स्वयं को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं कि प्रयागराज की धरती पर प्रदेश भर के नवाचारी शिक्षकों का जुटान हो रहा है और इसके द्वारा हम सब एक दूसरे से कुछ नया सीखने और उसे अपने विद्यालय व अपने जनपदों में लागू करने हेतु प्रयास करेंगे स्वप्रेरित शिक्षक समूह एडुस्टफ की फाउंडर जौनपुर की शिक्षिका श्रीमती प्रीति श्रीवास्तव ने कार्यशाला के उद्देश्य पर प्रकाश डालते हुए बताया यह कार्यशाला इसके पूर्व एससीईआरटी लखनऊ और पूर्वांचल विश्विद्यालय में हो चुकी है।

प्रयागराज में प्रदेश के सभी जनपदों से चिन्हित ऐसे शिक्षकों को प्रतिभागिता का अवसर मिला है जो अपने कामों से अन्य शिक्षकों के लिए निरंतर प्रेरणा उत्पन्न कर रहे हैं साथ ही निपुण प्रदेश की संकल्पना को साकार करने में अपनी महती भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं। प्रतिभागी शिक्षकों ने अपने कार्यों का पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से प्रस्तुति दी, अपने नवोन्मेषी प्रयासों एवम किए जा रहे कार्यों यथा छात्र उपस्थित ,नामांकन, अधिगम संप्रति ,समुदाय के सहयोग, निपुण लक्ष्य प्राप्ति के लिए अलग-अलग तरह के प्रयासों से किस प्रकार से अपने विद्यालय और जनपद में प्रतिकूल परिस्थितियों को भी अनुकूल बनाया है। इसका प्रस्तुतीकरण किया गया इस इस अवसर पर बीच-बीच में शिक्षकों द्वारा मनमोहक सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए प्रतिभागी शिक्षकों द्वारा टीचिंग लर्निंग मैटेरियल्स TLM का भी प्रदर्शन किया गया जिसका अवलोकन एवं उसमें प्रस्तुत चार्ट पोस्ट लाइव ऑडियो विजुअल सामग्री को देखकर लोग मन्त्र मुग्ध हुए प्रथम दिवस जनपद आजमगढ़ ,भदोही ,महोबा ,जौनपुर, प्रयागराज कासगंज सहारनपुर कन्नौज बाराबंकी ,बदायूं ,बिजनौर के शिक्षकों ने अपने पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन दिए दूसरे दिन कन्नौज, इटावा, अलीगढ़,फतेहपुर,गाजीपुर गोरखपुर उन्नाव कुशीनगर पीलीभीत लखीमपुर खीरी गाजियाबाद लखनऊ कानपुर नगर, कानपुर देहात,बाराबंकी के प्रतिभागी शिक्षकों ने अपनी पीपीटी प्रस्तुत की कार्यक्रम के समापन अवसर पर उपस्थित राज्य शैक्षिक प्रबंधन संस्थान के निर्देशक श्री दिनेश कुमार सिंह आंग्ल भाषा संस्थान के प्राचार्य श्री स्कन्द शुक्ल ने उपस्थित प्रतिभागियों को प्रशस्ति पत्र और मोमेंटो देकर सम्मानित किया।

इस अवसर पर सीमेंट के निदेशक ने कहा कि संगम की धरती पर लुप्त सरस्वती आज यहां सारस्वत पैलेस में विद्यमान है मां वाग्देवी के मानस पुत्रों के साक्षात स्वरूप शिक्षकों ने जिस प्रकार से अपने प्रयासों को, बच्चों के बीच किये जा रहे कार्यों को, निपुण विद्यालय की अपनी संकल्पना को यहां पर प्रस्तुत किया है इससे हम सब बहुत उत्साहित और प्रेरित है।

श्री स्कन्द शुक्ला ने शिक्षक समूह एडुस्टफ की सराहना करते हुए इस प्रकार के कार्यों को निरंतरता के साथ हर जनपद में आयोजित किए जाने की जरूरत बताई ।उपस्थित अतिथियों के प्रति अपना आभार प्रकट करते हुए संस्थापिका श्रीमती प्रीति श्रीवास्तव ने शिक्षकों से मिले सहयोग बेसिक शिक्षा प्रयागराज के सहयोग एवं प्रदेश भर से उपस्थित हुए शिक्षकों के प्रति अपना आभार प्रकट करते हुए सभी को मिलकर निपुण प्रदेश का सपना साकार करने का संकल्प दिलाया कार्यक्रम संयोजिका श्रीमती रेनू जायसवाल ने इस कार्यक्रम के आयोजन से जुड़ी हुई यादों को साझा करते हुए इसे भावुक करने वाला क्षण बताया ।


अंत में राष्ट्रगान के साथ दो दिवसीय शिक्षक समागम सातत्य अब अगले पड़ाव पर फिर मिलने के वादे के साथ समाप्त हुआ इस अवसर पर प्रमुख रूप से जनपद बिजनौर से श्रीमती सविता चौहान, मनीषा त्यागी, संदीप कुमार शर्मा द्वारा कार्यशाला में प्रतिभाग किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

News

दुर्गेश मोहन का नोबुल टैलेंट इंटरनेशनल अवार्ड में चयन

  पटना। दुर्गेश मोहन बिहटा को कर्म क्षेत्र बनाकर साहित्यकार, शिक्षक में बखूबी सेवा दे रहे हैं। ये गद्य एवं पद्य में रचनाकर राष्ट्र की सेवा में तत्पर हैं ।इनका चयन नोबुल टैलेंट इंटरनेशनल अवार्ड 2024 में 50 चयनित कवियों में 07वें स्थान पर हुआ है । इससे शहरवासियों एवं साहित्य प्रेमियों में काफी हर्ष […]

Read More
News

एक गूंज सेवा समिति का स्थापना दिवस कार्यक्रम हर्षोल्लास के साथ मनाया गया

बरेली। जनपद बरेली में एक गूंज सेवा समिति का स्थापना दिवस कार्यक्रम अरबन कॉप्रेटिव बैंक (डी. डी. पुरम)के हॉल में बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। एक गूंज सेवा समिति संस्था द्वारा उत्तर प्रदेश के 51 नवाचारी उत्कृष्ट शिक्षकों को राष्ट्र गौरव शिक्षक सम्मान प्रदान किया गया। कार्यक्रम में एमएलसी श्री महाराज सिंह, वन […]

Read More
News

एकदिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला संपन्न

पाठ लेखन के समय लेखक को स्वयं शिक्षार्थी लर्नर बनना ही होगा – प्रो. गोपाल शर्मा*   हैदराबाद, 29 दिसंबर, 2023 । “एस एल एम (सेल्फ लर्निंग मेटीरियल) या स्व-अध्ययन सामग्री ऐसी सामग्री है जिसे आदि से लेकर अंत तक छात्रकेंद्रित होना चाहिए। इस सामग्री को तैयार करते समय लेखक से लेकर संपादक, समन्वयक, परामर्शी […]

Read More